डिस टीवी ने निकाला 'मेरा अपना पैक' मिलेंगे अनलिमिटेड फ्री टू एयर चैनल्स

डिस टीवी


इस नए नियम के लागू होने के बाद से सर्विस प्रोवाडर्स यूजर्स से नेटवर्क कैपेसिटी फी के तौर पर अधिकतम 130 रुपये ही चार्ज कर सकते हैं। इसमें कम से कम 100 पेड चैनल्स देने होंगे, किसी भी फ्री-टू-एयर चैनल्स को इसमें काउंट नहीं किया जाएगा। इस नए नियम के तहत, यूजर्स को 100 पेड चैनल्स 130 रुपये (बिना किसी टैक्स के) में मिल रहे हैं। इन 100 चैनल्स में से सब्सक्राइबर्स कोई भी पेड चैनल का पैक चुनता है तो उसे डीडी (दूरदर्शन) के 25 फ्री चैनल्स लेना अनिवार्य होगा।टेक डेस्क TRAI के नए केबल टीवी और डीटीएच नियम के बाद से केबल ऑपरेटर्स एवं डीटीएच सर्विस प्रोवाइडर्स ने सब्सक्राइबर्स के लिए कई बेस पैक्स लॉन्च किए हैं। TRAI का नया केबल टीवी और डीटीएच नियम 1 फरवरी से लागू कर दिया गया है। इस नियम के तहत सब्सक्राइबर्स को केवल उन्ही चैनल्स को देखने के लिए भुगतान करना होगा जो उन्होंने सेलेक्ट किया है। केबल टीवी प्रोवाइडर्स या डीटीएच सर्विस प्रोवाइडर्स किसी भी सब्सक्राइबर्स को कोई भी चैनल जबरन नहीं थोप सकते हैं।

DishTV ने इसी नए नियम के अनुसर

आधार पर 'मेरा अपना पैक' प्लान लॉन्च किया है। जिसमें यूजर्स को 100 पेड चैनल्स के लिए 130 रुपये नेटवर्क कैपेसिटी चार्ज के लिए देना होगा। इसपर 18 फीसद का जीएसटी लगता है। यूजर्स को कुल 153 रुपये का मंथली चार्ज देना होता है। इस पैक में यूजर्स को 100 सेलेक्टेड पेड चैनल्स और 100 फ्री टू एयर चैनल्स मिलते हैं। TRAI के नियम के मुताबिक, इन 100 चैनल्स में से 25 चैनल्स दूरदर्शन के मिलेंगे। बांकि बचे 75 स्पॉट में यूजर्स अपने हिसाब से फ्री टू एयर चैनल्स का चुनाव कर सकते हैं।

हाल ही में डीटीएस सर्विस प्रदाता कंपनी Tata Sky ने मल्टीपल कनेक्शन लेने वाले यूजर्स के लिए नया प्राइस लिस्ट जारी किया है। नए प्राइस लिस्ट के मुताबिक मल्टीपल कनेक्शन लेने वाले यूजर्स को चैनल्स के चुनाव के लिए कम पैसे देने होंगे। आपको बता दें कि पहले ही Videocon D2h और Airtel डिजिटल टीवी ने मल्टीपल कनेक्शन लेने वाले यूजर्स के लिए सस्ते प्लान्स लॉन्च किए थे। Videocon D2h यूजर्स से फ्लैट 50 रुपये चार्ज कर रहा है जबकि Airtel डिजिटल टीवी यूजर्स को मल्टीपल चैनल के कनेक्शन के लिए 80 रुपये का चार्ज किया जा रहा है।


इसे भी पढ़े -अयोध्या केस- मध्यस्थता पर सुप्रीम कोर्ट ने सुरक्षित रखा फैसला सभी पक्षों के मांगे नाम
इसे भी पढ़े -पकड़ा गया पाकिस्तान का झूठ, हाफिज के संगठन पर नहीं लगाया बैन!
इसे भी पढ़े -अमेरिका भारत को जीएसपी कार्यक्रम की सूची से करेगा बाहर, होगा भारी नुकसान
Previous
Next Post »